Swaminarayan Akshardham celebrated India’s Azadi ka Amrit Mahotsav with great fervor in the presence of a large number of devotees and well-wishers.
Sadguru Pujya Dr. Swami inaugurated the program by unfurling the national flag, after which everyone respectfully participated in singing the national anthem. Thereafter, RAC personnel paraded and saluted the national flag, while everyone present waved their flags.
Munivatsal Swami addressed the huge gathering in the courtyard of the Akshardham Mandir and paid homage to all the courageous freedom fighters of India, whose efforts have made this Amrit Mahotsav possible today. He also remembered the contributions of Pramukh Swami Maharaj, the creator of Akshardham Mandir whose birth centenary is being celebrated this year, in the moral upliftment of the nation.
In his address, Pujya Dr. Swami also praised the leaders of the freedom movement of India and stressed the necessity for unity among all citizens to continue to make India a prosperous and strong nation.

अक्षरधाम मंदिर में आज़ादी का अमृत महोत्सव मनाया गया

नई दिल्ली में स्थित विश्वप्रसिद्ध अक्षरधाम मंदिर के प्रांगण में भारत के आज़ादी का अमृत महोत्सव आज बड़े हर्षोल्लास से मनाया गया। इस पावन पर्व पर बड़ी संख्या में श्रद्धालु एवं भाविक जन उपस्थित रहे।
अक्षरधाम संस्थान के वरिष्ठ सद्गुरु संत पूज्य डॉक्टर स्वामीजी ने राष्ट्रध्वज फहराकर कार्यक्रम का शुभारंभ किया। उसके बाद उपस्थित संत तथा भक्त समुदाय  ससम्मान राष्ट्रगान में सम्मिलित हुआ।  इस अवसर पर आरएसी के जवानों ने परेड कर राष्ट्रध्वज को सलामी दी। परिसर में उपस्थित  प्रत्येक व्यक्ति ने अपने ध्वज  लहराकर समूचे प्रांगण को राष्ट्रभक्ति से भर दिया।
राजधानी दिल्ली के हृदयस्थान पर स्थित अक्षरधाम मंदिर के प्रांगण में आज के दिन उपस्थित विशाल जन समुदाय को अक्षरधाम मंदिर के प्रभारी मुनिवत्सल स्वामीजी ने प्रथम संबोधित किया। उन्होंने भारत के उन सभी अमर शहीदों को श्रद्धांजलि दी जिनके कारण आज हम यह अमृत महोत्सव मना रहे हैं। विशेषत:  उन्होंने अक्षरधाम के सर्जक प.पू. प्रमुखस्वामीजी महाराज के द्वारा राष्ट्र के नैतिक उत्थान में किए योगदान की भी स्मृति की।
अपने प्रवचन में वरिष्ठ सद्गुरु संत पूज्य डॉक्टर स्वामीजी ने भारत के स्वतन्त्रता आंदोलन के नेताओं का स्मरण कर नमन किया। साथ ही उन्होंने आज भारत को  समृद्ध और सशक्त राष्ट्र बनाने के लिए नागरिकों के बीच एकता लाने पर बल दिया। उल्लेखनीय है कि बीएपीएस संस्था के वर्तमान अध्यक्ष एवं गुरुदेव प.पू.  महंतस्वामीजी  की प्रेरणा से आज समग्र भारत देश के सभी स्वामिनारायण मंदिरों भी आज़ादी का अमृत महोत्सव बड़े धूमधाम से मनाया गया।  

© 1999-2022 Bochasanwasi Shri Akshar Purushottam Swaminarayan Sanstha (BAPS Swaminarayan Sanstha), Swaminarayan Aksharpith | Privacy Policy | Terms & Conditions | Feedback |   RSS